नई दिल्ली.साहिबाबाद के राजेंद्र नगर में हुई केमिकल डिस्ट्रीब्यूटर की हत्या का मुख्य साजिशकर्ता उसका इकलौता बेटा ही निकला। उसने अपने पिता की हत्या के

नई दिल्ली.साहिबाबाद के राजेंद्र नगर में हुई केमिकल डिस्ट्रीब्यूटर की हत्या का मुख्य साजिशकर्ता उसका इकलौता बेटा ही निकला। उसने अपने पिता की हत्या के लिए सुपारी दी थी। मजलिस पार्क आजादपुर इलाके से क्राइम ब्रांच ने हत्या में शामिल आरोपी बेटे गौरव खेड़ा (37), उसके पार्टनर विशाल गर्ग (23) और सुपारी किलर सादिक (22) को गिरफ्तार कर लिया है।

21 मई को साहिबाबाद इलाके में मॉडल टाउन निवासी अनिल खेड़ा की ताबड़तोड़ गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हमलावरों ने कारोबारी से किसी प्रकार की लूट नहीं की थी। इसलिए हत्या के स्पष्ट कारणों का पता नहीं चल पा रहा था।

पुलिस ने बताया कि आरोपी बेटे को जुआ खेलने की लत थी। इस चक्कर में उस पर काफी कर्ज चढ़ गया था। बेटे की करतूत को देखते हुए पिता ने उसे पैसे देने बंद कर दिए थे। एक दिन पिता ने बेटे की पिटाई भी की थी। इस बात से खफा आरोपी गौरव ने अपने पिता को मारने की साजिश रच दी। उसने अपने पार्टनर विशाल को साजिश में शामिल किया।

उसने हत्या के बाद बिजनेस में 25 फीसदी हिस्सेदारी विशाल की तय की थी। इस हत्या का ठेका सुपारी किलर शमशेर और सादिक को पांच लाख रुपये में दिया गया। इन दोनों में अनबन के चलते क्राइम ब्रांच की टीम हत्यारों तक पहुंच पाई।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
symbolic image