गाजियाबाद.गाजियाबाद के मुरादनगर की कोट कॉलोनी में रविवार सुबह एक धार्मिक स्थल की छत पर 7 साल की बच्ची का शव मिला। दूसरी कक्षा में पढ़ने वाली बच्ची शनिवार

गाजियाबाद.गाजियाबाद के मुरादनगर की कोट कॉलोनी में रविवार सुबह एक धार्मिक स्थल की छत पर 7 साल की बच्ची का शव मिला। दूसरी कक्षा में पढ़ने वाली बच्ची शनिवार दोपहर लापता हो गई थी। शव के ऊपर बोरा रखकर छुपाया गया था। बच्ची गले पर चोट के निशान मिले हैं। उसका चेहरा भी कुचला गया है।

इस मामले में बच्ची के परिजनों ने पड़ोस के बसपा सभासद व अन्य लोगों के खिलाफ अपहरण कर हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है। आशंका जताई जा रही है कि चुनावी रंजिश में इस घटना को अंजाम दिया गया। हालांकि, पुलिस सभी एंगल ध्यान में रखते हुए जांच कर रही है। वहीं, इस घटना से नाराज लोगों ने रविवार सुबह सभासद के खिलाफ नारेबाजी की और पथराव भी किया। कॉलोनी में तनाव को देखते हुए भारी पुलिस फोर्स की तैनाती कर दी गई है।

शनिवार दोपहर दुकान पर गई थी बच्ची, फिर नहीं लौटी :पुलिस ने बताया कि मृत बच्ची के पिता कॉलोनी में ही एक पब्लिक स्कूल का संचालन करते हैं। परिवार में बच्ची के माता-पिता और एक बहन व 2 भाई हैं। परिवार के लोगों ने बताया कि शनिवार दोपहर करीब 12:30 बजे बच्ची घर से बाहर एक दुकान से खाने का सामान लेने गई थी। दोपहर 2 बजे तक बच्ची घर नहीं लौटी तब उसकी तलाश शुरू की गई। बच्ची के नहीं मिलने पर गांव के सैकड़ों लोगों ने घर-घर तलाशी शुरू की, फिर भी कोई जानकारी नहीं मिली। इसके बाद शनिवार रात करीब 10 बजे मुरादनगर थाने में शिकायत दी।

धार्मिक स्थल की छत पर बंदर चीखने लगे तब पड़ी नजर :लोगों ने बताया कि रविवार सुबह करीब 7 बजे कॉलोनी के ही एक धार्मिक स्थल की छत पर बंदर जोर-जोर से चीख रहे थे। इसे देखकर वहां कुछ लोग पहुंचे तो देखा कि छत पर लगे टीनशेड के एक कोने में बोरे के नीचे बच्ची का पैर दिख रहा है। बोरे को हटाया गया तो शव दिखा। इसके बाद बच्ची के परिजनों को जानकारी हुई। उन्होंने पड़ोस में रहने वाले बसपा के सभासद पर बच्ची की हत्या की आशंका जताई। सभासद के मकान पर पथराव भी किया गया। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को समझाकर शांत कराया।

मामला दर्ज अब पीएम रिपोर्ट से स्पष्ट होगी घटना :एसएसपी गाजियाबाद वैभव कृष्ण ने बताया कि इस मामले में परिजनों की शिकायत पर सभासद एजाज सहित नौशाद, इंतजार व अफजाल के खिलाफ अपहरण, हत्या सहित कई धाराआें में रिपोर्ट दर्ज की गई है। अभी मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। बच्ची के साथ किसी तरह की हैवानियत के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
विलाप करते परिजन।