नई दिल्ली.कन्याकुमारी से 28 जुलाई को रोड सेफ्टी के लिए 1 करोड़ कदम का लक्ष्य लेकर चली क्लब डी2एस की टीम शुक्रवार को दिल्ली पहुंची। रोड सेफ्टी वॉक की अगुवाई

नई दिल्ली.कन्याकुमारी से 28 जुलाई को रोड सेफ्टी के लिए 1 करोड़ कदम का लक्ष्य लेकर चली क्लब डी2एस की टीम शुक्रवार को दिल्ली पहुंची। रोड सेफ्टी वॉक की अगुवाई करने वाले सुब्रमण्यम नारायण ने 70 दिन में 2930 किमी वॉक पूरी कर ली है। यह टीम 16 अक्टूबर को कश्मीर पहुंचेंगी।

  1. साथी रमाशंकर पांडेय और मुंबई हमले के हीरो नेवी कमांडो शौर्य चक्र विजेता प्रवीण तेवतिया समेत पूरी टीम ने एक करोड़ कदम पूरा करने के लक्ष्य की जगह 11 करोड़ कदम पूरे होने और 15 करोड़ कदम ऑडिट में होने का दावा किया है। शुक्रवार को दिल्ली में सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल्स मैन्युफैक्चरर्स और दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के साथ मिलकर रोड सेफ्टी के लिए लोधी रोड पर वॉकाथन आयोजित किया, जिसमें स्कूली बच्चे शामिल हुए।

  2. रमाशंकर ने बताया कि अब नया लक्ष्य सड़क सुरक्षा के लिए 125 करोड़ कदम का रखा है। इसे पूरा करने के लिए स्कूल, कॉलेज, कारपोरेट के अलावा एनसीसी की टीम ने पूरे देश में वॉक करने की बात कही है।

  3. मूल रूप से केरल में जन्मे और चेन्नई में रहने वाले सुब्रमण्यम नारायण का रोड सेफ्टी जुनून कुछ ऐसा छाया कि कन्या कुमारी से वॉक शुरू करके जब दिल्ली पहुंचे तो उन्होंने अपने हाथ पर भारत का नक्शा और वॉक का रूट गुदवाया। जितनी दूरी तय करनी बाकी है, उससे डॉटेड रखा है। यात्रा पूरी होने पर उसे पूरा गुदवाएंगे।

  4. रमा शंकर पांडेय बताते हैं कि स्कूलों में क्लब बनाकर बच्चों को जागरूक कर रहे हैं। सुब्रह्मण्यम नारायण ने हाथ में जीपीएस वाली घड़ी पहनी है। जो वॉक होते हैं उसमें जितने लोग साथ चलते हैं उन सबके कदम जोड़कर उसका ऑडिट कराते हैं। अभी 11 करोड़ कदम गिने गए हैं। 15 करोड़ का ऑडिट चल रहा है। वहीं वेबसाइट और एप पर लोगों से रोड सेफ्टी वॉक करके स्टेप डोनेशन ले रहे हैं।



    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
      सुब्रमण्यम नारायण के साथ टीम में शामिल रमाशंकर पांडेय और पूर्व नेवी कमांडो प्रवीण तेवतिया।