कैलिफोर्निया में एक इंडियन-अमेरिकन आईटी कंपनी को एच1-बी वीजा का उल्लघंन और अपनी कर्मचारियों से धोखाधड़ी करने के मामले में लाखों डॉलर का जुर्माना लगाया

कैलिफोर्निया में एक इंडियन-अमेरिकन आईटी कंपनी को एच1-बी वीजा का उल्लघंन और अपनी कर्मचारियों से धोखाधड़ी करने के मामले में लाखों डॉलर का जुर्माना लगाया गया है। यूएस लेबर विभाग ने कार्रवाई करते हुए क्लाउड टेक्नालॉजी को 173,044 यूएस डॉलर अपने कर्मचारियों को सैलरी के रूप में देने के लिए कहा है। विभाग द्वारा जांच में पाया गया था कि एच1-बी वीजा के तहत कंपनी ने 12 विदेशी कर्मचारियों को वैज नियम के अनुसार सैलरी नहीं दी। इनमें भारत के भी कर्मचारियों शामिल हैं। क्लाउड टेक्नालॉजी के संस्थापक और सीईओ भारतीय मूल के मनी छाबड़ा हैं।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें