रतलाम में रेलवे में जूनियर इंजीनियर 28 वर्षीय दिलीप पाटीदार डेढ़ वर्ष पूर्व बाइक चलाते समय अचानक से गिर पड़े। देखा कि बायां पैर उठ नहीं पा रहा है। जब वे

रतलाम में रेलवे में जूनियर इंजीनियर 28 वर्षीय दिलीप पाटीदार डेढ़ वर्ष पूर्व बाइक चलाते समय अचानक से गिर पड़े। देखा कि बायां पैर उठ नहीं पा रहा है। जब वे डॉक्टर के पास गए तो बहुत बाद में मालूम पड़ा कि यह जीएनई मायोपैथी बीमारी है। दिलीप बताते हैं कि शुरू में बीमारी समझ में ही नहीं आई। लगा कि चलने में कमजोरी आ गई है तो मैं ताकत की दवाई लेने लगा। मैंने इंदौर, मुंबई आदि स्थानों पर दिखाया। डॉक्टरों ने बताया कि दुनिया में इस बीमारी का कोई इलाज नहीं है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें