फिकस्ड डिपॉजिट (FD) और पब्लिक प्रोविडेंट फंड PPF दोनों ही इन्वेस्टमेंट की काफी पॉपुलर स्कीम हैं। पीपीएफ में जहां ब्याज दरें सरकार तय करती है तो वहीं एफडी

फिकस्ड डिपॉजिट (FD) और पब्लिक प्रोविडेंट फंड PPF दोनों ही इन्वेस्टमेंट की काफी पॉपुलर स्कीम हैं। पीपीएफ में जहां ब्याज दरें सरकार तय करती है तो वहीं एफडी में अलग-अलग बैंक अपनी-अपनी स्कीम्स चलाते हैं। पीपीएफ में यह फेसिलिटी ये भी है कि अकाउंट को पोस्ट ऑफिस बैंक और बैंक से पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर करवाया जा सकता है। आज हम बता रहे हैं पीपीएफ और एफडी की खास बातें। इससे आप समझ सकेंगे आपके लिए पीपीएफ बेहतर है या एफडी।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें