नई दिल्ली.दिल्ली सरकार गायों के लिए हॉस्टल शुरू करेगी। यहां उनके खाने-पीने से लेकर देखभाल की सभी सुविधाएं होंगी। हॉस्टल की सुविधा के लिए गाय के मालिक को

नई दिल्ली.दिल्ली सरकार गायों के लिए हॉस्टल शुरू करेगी। यहां उनके खाने-पीने से लेकर देखभाल की सभी सुविधाएं होंगी। हॉस्टल की सुविधा के लिए गाय के मालिक को पैसा देना होगा। हॉस्टल कैसे चलेगा और किसकी जिम्मेदारी होगा, इसकी रूपरेखा एनीमल हसबेंडरी विभाग के अधिकारी संबंधित विभागों से बातचीत के बाद तैयार करेंगे।

मंत्री गोपाल राय ने बताया कि दिल्ली सरकार ने एनीमल हेल्थ और वेलफेयर पॉलिसी-2018 अधिसूचित कर दी है। इसका उद्देश्य पशु-पक्षियों के लिए बेहतर माहौल बनाना है। पॉलिसी में लावारिस पशुओं में माइक्रो-चिप लगाने का भी प्रावधान है। इससे सड़क पर घूमने वाले पालतू पशुओं के मालिकों पर कार्रवाई की जाएगी। चिप कैसे और कौन लगाएगा, यह सब भी तय होना है।

प्रस्ताव में यह भी शामिल :

  • एनीमल हसबेंडरी विभाग का नाम बदलकर एनीमल हेल्थ एंड वेलफेयर करने का प्रस्ताव।
  • घुम्मन हेड़ा गांव में 18 एकड़ जमीन पर गौशाला के साथ वृद्धा आश्रम बनाया जाएगा। जहां बुजुर्ग गायों की सेवा कर सकेंगे। हर जिले में 2-3 गौशाला बनेंगी।
  • पशु-पक्षियों के लिए 24 घंटे चिकित्सीय सुविधा मिलेगी। 16 जनवरी को तीस हजारी के पास पायलट प्रोजेक्ट के तहत एक अस्पताल शुरू किया जाएगा।


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Delhi government to make hostels for cows