लंदन.     नरेंद्र मोदी भले ही ब्रिटेन दौरे पर हैं, लेकिन वहां से भी वे कर्नाटक विधानसभा चुनाव को साधने की कोशिश कर रहे हैं। मोदी बुधवार को यहां टेम्स नदी पर

लंदन.     नरेंद्र मोदी भले ही ब्रिटेन दौरे पर हैं, लेकिन वहां से भी वे कर्नाटक विधानसभा चुनाव को साधने की कोशिश कर रहे हैं। मोदी बुधवार को यहां टेम्स नदी पर स्थित लिंगायत संत बसवेश्वर की मूर्ति के सामने प्रार्थना करेंगे। 2015 में मोदी ने ही इस मूर्ति का अनावरण किया था। इसे कर्नाटक चुनाव से एक महीने पहले लंदन से मोदी का लिंगायत कार्ड माना जा रहा है। कांग्रेस ने पहले ही इस समुदाय को अल्पसंख्यक का दर्जा देकर अपनी तरफ लुभाने की कोशिश की है। राज्य में इस समुदाय की आबादी 17% है और ये चुनाव में अहम भूमिका निभाते हैं। बता दें कि कर्नाटक में 12 मई को विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग होनी है। 15 मई को नतीजे आएंगे।   मोदी ने 1:41 मिनट का वीडियो भी पोस्ट किया - मोदी ने बुधवार को संत बसवेश्वर को याद करते हुए एक ट्वीट किया। इसके साथ उन्होंने 1 मिनट 41 सेकंड का एक वीडियो भी पोस्ट किया। - यह वीडियो 2015 का है, जब मोदी ने संत बसेश्वर की इस मूर्ति का अनावरण किया था।  - इसमें मोदी कह रहे हैं, "ओम श्री गुरु बासवा लिंगाय नम: भगवान बसवेश्वर के वचनों से, उनकी शिक्षाओं से बने सात...

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें