ऑटो डेस्क। ट्रैफिक पुलिस ने साइकिल से जा रहे एक आदमी का चालान काट दिया। मामला केरल का है, यहां कासिम को कासरगोड जिले में कुम्बाला हाईवे पुलिस ने रोक दिया।

ऑटो डेस्क। ट्रैफिक पुलिस ने साइकिल से जा रहे एक आदमी का चालान काट दिया। मामला केरल का है, यहां कासिम को कासरगोड जिले में कुम्बाला हाईवे पुलिस ने रोक दिया। फिर तेज साइकिल चलाने और हेलमेट नहीं पहनने के चलते उसका चालान काट दिया गया। ये बात सुनने में अजीब है, लेकिन पूरी तरह सही है।

500 रुपए का चालान

उत्तर प्रदेश के रहने वाले कासिम पर पुलिस ने साइकिल की ओवर स्पीड और बिना हेलमेट के चलते 2000 रुपए का जुर्माना लगाया। जब कासिम ने बताया कि वो डेली 400 रुपए कमाता है और उसके पास इतने पैसे नहीं है, तब जाकर उसके चालान को 500 रुपए किया गया। पुलिस ने चालान की जो रिसिप्ट दी उसमें जिस वाहन का नंबर डाला वो किसी महिला के स्कूटर का है।

हालांकि, जब ये मामला सोशल मीडिया पर तेजी से फैलने लगा और लोकल मीडिया ने इस मामले को हवा दी, तब डिस्ट्रिक्ट पुलिस चीफ के आदेश पर हुई जांच में SI दोषी पाया गया। विभाग उसके खिलाफ कोई एक्शन भी ले सकता है। बता दें, कि इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर पोस्ट किया गया था।

ओवर स्पीड और हेलमेट का नियम

इस मामले के बारे में गोविंद रावत (DSP, ट्रैफिक पुलिस, भोपाल) का कहना है कि साइकिल की स्पीड को लेकर कोई कानून नहीं है। साथ ही, साइकिल से चलने वाले के लिए हेलमेट पहनना भी जरूरी नहीं है। हालांकि, सेफ्टी को देखते हुए साइकिल हेमलेट पहन सकते हैं। साइकिल पर कोई रजिस्ट्रेशन नंबर नहीं होता। ऐसे में चालान काटने का सवाल ही नहीं है।

मोटर व्हीकल एक्ट (MVA) 1988 के सेक्शन 177 के मुताबिक, बाइक और स्कूटर पर चलने वाले राइडर्स को हेलमेट पहनना जरूरी है। यदि वो बिना हेलमेट के पकड़ा जाता है तब पहली बार में 100 रुपए और दोबारा पकड़े जाने पर 300 रुपए का चालान कटेगा।

एरिया वाइज तय स्पीड को क्रॉस करने पर मोटर व्हीकल एक्ट (MVA) 1988 के सेक्शन 183 के मुताबिक, ओवर स्पीड के चलते पहली बार 400 रुपए और दोबारा पकड़े जाने पर 1000 रुपए का का चालान काटा जाता है। इसमें शहर की लिमिटेड स्पीड 60km है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Police Fine Bicycle Rider For Over Speeding And Riding Without Helmet