2014 में आंध्र प्रदेश से अलग होकर बना तेलंगाना लोकसभा सीटों के हिसाब से देश का 13वां बड़ा राज्य है। लोकसभा में 17 सीटों की हिस्सेदारी रखने वाला यह राज्य

2014 में आंध्र प्रदेश से अलग होकर बना तेलंगाना लोकसभा सीटों के हिसाब से देश का 13वां बड़ा राज्य है। लोकसभा में 17 सीटों की हिस्सेदारी रखने वाला यह राज्य स्वतंत्र रूप से लोकसभा चुनाव 2019 में पहली बार वोट करेगा। राज्य में सत्तारूढ़ टीआरएस समेत विपक्षी कांग्रेस, भाजपा, असदुद्दीन ओवैसी की एआईएमआईएम और अन्य पार्टियों ने अपने-अपने वोट बैंक का रोडमैप तैयार कर लिया है। पिछली बार 17 में से 11 लोकसभा सीटों पर कब्जा और राज्य में सरकार होने के एडवांटेज के साथ टीआरएस उत्साहित है, तो राज्य का विभाजन और फिर हाल ही में टीडीपी से गठबंधन टूटने के बाद से भाजपा को तेलंगाना में नई जमीन या बैसाखी की तलाश है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें