नेशनल डेस्क/ सूरत: सूरत में सिविल अस्पताल के सामने शुक्रवार को ट्रैफिक में फंसी 108 एम्बुलेंस में एक बच्चे का जन्म हुआ। उसके माता-पिता ने अब मासूम का नाम ही

नेशनल डेस्क/ सूरत: सूरत में सिविल अस्पताल के सामने शुक्रवार को ट्रैफिक में फंसी 108 एम्बुलेंस में एक बच्चे का जन्म हुआ। उसके माता-पिता ने अब मासूम का नाम ही 108 गुप्ता रख दिया है। बच्चे के पिता विकेश गुप्ता ने कहा कि शुक्रवार का दिन हमारी जिंदगी का कभी न भूलने वाला दिन बन गया है।

400 मीटर दूर था अस्पताल
प्रसव पीड़ा से कराह रही मेरी पत्नी अस्पताल से सिर्फ 400 मीटर की दूरी पर थी, लेकिन अस्पताल तक पहुंच नहीं पाई। ट्रैफिक में उसकी जान अटकी हुई थी। एम्बुलेंस के ड्राइवर और पुरुष नर्स ने किसी तरह मेरी पत्नी की जान बचाई और सुरक्षित प्रसव कराया। बच्चा मुश्किल परिस्थिति में एम्बुलेंस में पैदा हुआ। इसलिए हमने उसका नाम 108 रख दिया। अब मैं जब-जब 108 बुलाऊंगा, तब मुझे वह दिन याद आएगा। मेरी 2 बेटियां हैं। अब यह बेटा पैदा हुआ है।

बच्चे की मां ने क्या कहा ?
बच्चे की मां किरण गुप्ता के मुताबिक, जब डॉक्टर ने कहा कि बच्चा टेढ़ा हो गया है, तब मैं बहुत डर गई थी। सिविल अस्पताल के सामने पहुंचने पर भी ट्रैफिक की वजह से एम्बुलेंस अस्पताल तक नहीं पहुंच पाई। उसी समय तेज दर्द होने लगा। बच्चे के जन्म लेते ही मेरे लिए सबकुछ बदल गया। एम्बुलेंस के ड्राइवर की वजह से आज मैं और मेरा बच्चा सुरक्षित हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Delivery in the ambulance trapped in traffic and son name 108 Gupta