5 करोड़ यूजर्स के डेटा लीक के बाद फेसबुक के जरिए आतंकी सगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) को मदद मिलने की बात सामने आई है। एक अमेरिकी एनजीओ की रिपोेर्ट में दावा

5 करोड़ यूजर्स के डेटा लीक के बाद फेसबुक के जरिए आतंकी सगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) को मदद मिलने की बात सामने आई है। एक अमेरिकी एनजीओ की रिपोेर्ट में दावा किया गया है कि दुनियाभर में आईएस का समर्थन करने वाले यूजर्स फेसबुक के सजेस्ट फ्रेंड टूल के जरिए एक-दूसरे के संपर्क में आ रहे हैं। हालांकि, फेसबुक आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि कंपनी ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल कर चरमपंथ को बढ़ावा दे रहे कंटेंट को हटा दिया है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें