विशाखापट्टनम.चक्रवाती तूफान तितली गुरुवार (11 अक्टूबर) को आंध्र और ओडिशा के तट से टकराएगा। इसे अति गंभीर चक्रवाती तूफान की श्रेणी में रखा गया है। भारी

विशाखापट्टनम.चक्रवाती तूफान तितली गुरुवार (11 अक्टूबर) को आंध्र और ओडिशा के तट से टकराएगा। इसे अति गंभीर चक्रवाती तूफान की श्रेणी में रखा गया है। भारी बारिश के चेतावनी के बाद ओडिशा सरकार ने पांच तटीय जिलों के निचले इलाके खाली करा लिएहैं।

मौसम विभाग के मुताबिक, 280 किलोमीटर दूर बंगाल की खाड़ी में उठा तूफान 15किलोमीटर/घंटा की रफ्तार से ओडिशा तट की ओर बढ़ रहा है। इसके असर से 10 और 12 अक्टूबर को पूरे ओडिशा में भारी बारिश की आशंका जताई गई। इस दौरान समुद्रमें ऊंची लहरें उठ सकती हैं।

  1. मौसम विभाग ने बताया कि गुरुवार को ओडिशा के गोपालपुर, आंध के कलिंगापट्टनम में आंधी-तूफान की आशंका है। इस दौरान 150 किलोमीटर/घंटा की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। तितली का असर पश्चिम बंगाल और बिहार के कुछ इलाकों में भी देखने को मिलेगा।

  2. ओडिशा के मुख्य सचिव आदित्य प्रसाद ने बताया कि तटीय क्षेत्र के पांच जिलों गंजम, पुरी, खुर्दा, केंद्रपाड़ा और जगतसिंहपुर में निचले और तटीयइलाके खाली कराए हैं। गजपति, नयागढ़, कटक, जयपुर, भद्रक, बालासोर, कंधमाल, बौध और धेनकनाल में गुरुवार को भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

  3. ओडिशा सरकार ने राज्य के सभी जिलाधिकारियों को अलर्ट भेजा है। इस दौरान सभी अफसरों की छुट्टियां भी रद्द कर दी गई हैं। राज्य में 11 और 12 अक्टूबर को सभी स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे। उधर, तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक में दक्षिण-पूर्वीमानसून भी सक्रिय हो गया है।

  4. उधर, अरब सागर में लुबान तूफान का असर देखा जा रहा है। मौसम विभाग ने कहा कि केरल, कर्नाटक और लक्षदीप के तटीय इलाकों में भारी बारिश के आसार हैं। मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई।



    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
      चक्रवात ओडिशा तट से 280 किलोमीटर दूर बंगाल की खाड़ी में उठा है।
      सिम्बॉलिक फोटो