बेंगलुरू.देश की 53% महिलाओं की शारीरिक एक्टिविटी जरूरी स्तर से कम है। पुरुषों की स्थिति भी अच्छी नहीं है। करीब 48% पुरुष फिजिकली इनएक्टिव हैं। ये नतीजा

बेंगलुरू.देश की 53% महिलाओं की शारीरिक एक्टिविटी जरूरी स्तर से कम है। पुरुषों की स्थिति भी अच्छी नहीं है। करीब 48% पुरुष फिजिकली इनएक्टिव हैं। ये नतीजा बेंगलुरू के फिटनेस एप हेल्थीफाई मी के एक हालिया सर्वे से निकले हैं। एप ने 25 साल से ऊपर के करीब 10 लाख भारतीयों की सेहत से जुड़ी आदतों पर सर्वे किया और उसके आधार पर "फिजिकल एक्टिविटी लेवल ऑफ इंडियंस' नाम से रिपोर्ट तैयार की। नतीजा निकला कि- फिजिकल एक्टिविटी के साथ-साथ महिलाओं का कैलोरी बर्न भी पुरुषों से कम है। महिलाओं को एक दिन में जितनी कैलोरी बर्न करनी चाहिए, उसकी सिर्फ 44% ही बर्न कर पाती हैं। वहीं पुरुष एक दिन के जरूरी कैलोरी बर्न का करीब 55% लक्ष्य हासिल करते हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक- महिलाओं को एक दिन में औसतन 374 कैलोरी बर्न करनी चाहिए। इसमें से वो औसतन 165 कैलोरी ही बर्न कर पाती हैं। वहीं पुरुषों को एक दिन में औसतन 476 कैलोरी बर्न करनी चाहिए, जिसमें से वो करीब 262 कैलोरी बर्न कर लेते हैं।

कैलोरी बर्न का सीधा संबंध शारीरिक सक्रियता से ही होती है। सर्वे करने वाले एप के सीईओ तुषार वशिष्ठ का कहना है कि- "ये बड़ी चिंता वाली बात है कि देश की आधी आबादी जरूरी फिजिकल एक्टिविटी ही नहीं कर रही है। अगर हम देश के महिला-पुरुषों को मिलाकर बात करें तो हर व्यक्ति जरूरी फिजिकल एक्टिविटी का महज 50% लक्ष्य ही हासिल कर पा रहा है।

इसकी सबसे बड़ी वजह है- रोजमर्रा की खराब आदतें और खराब खान-पान। यही आदतें मोटापे, हायपरटेंशन, डायबिटीज का कारण बनती हैं। सर्वे में एक और चौंकाने वाली बात सामने आई। फिजिकल एक्टिविटी का 30 साल के आस-पास की उम्र वाले लोगों में भी बहुत खराब स्तर है।'

सर्वे में शारीरिक सक्रियता को 3 पैमानों में बांटा गया- एक्टिव, माइल्ड एक्टिव, इनएक्टिव। 30% पुरुष एक्टिव हैं, करीब 22% माइल्ड एक्टिव और बाकी इनएक्टिव। वहीं 24% महिलाएं एक्टिव हैं, करीब 22% माइल्ड एक्टिव और बाकी इनएक्टिव।

बड़े शहर वाले लोग, छोटे शहर वालों से ज्यादा एक्टिव रहते हैं :
सर्वे करने वाले एप ने अलग-अलग शहरों के लोगों के फिटनेस बैंड या फोन के फिटनेस एप का डेटा इकट्‌ठा कर उसके आधार पर नतीजे निकाले। ये भी पता चला कि बड़े शहर यानी टियर-1 के लोग एक दिन में औसतन 407 कैलोरी बर्न कर रहे हैं। वहीं छोटे शहर यानी टियर-2 वाले एक दिन में औसतन 371 कैलोरी ही बर्न कर पा रहे हैं। यानी टियर-1 शहर वाले टियर-2 की तुलना में ज्यादा एक्टिव हैं। बेंगलुरू, गुरुग्राम के लोग अपनी सेहत को लेकर सबसे ज्यादा सतर्क हैं, जबकि कोलकाता, लखनऊ, अहमदाबाद के लोग सेहत पर सबसे कम ध्यान दे रहे हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
53% of women are physically less active