प्रयागराज.इलाहाबाद हाईकोर्ट ने जूना अखाड़ा से अलग किए गए गोल्डन बाबा को शाही स्नान की अनुमति देने से इनकार कर दिया है। जस्टिस पीकेएस बघेल और पंकज भाटिया

प्रयागराज.इलाहाबाद हाईकोर्ट ने जूना अखाड़ा से अलग किए गए गोल्डन बाबा को शाही स्नान की अनुमति देने से इनकार कर दिया है। जस्टिस पीकेएस बघेल और पंकज भाटिया की बेंच ने शनिवार को गोल्डन बाबा की अर्जी पर सुनवाई के बाद कहा कि वह आम आदमी की तरह कुंभ में स्नान कर सकते हैं। इस दौरान उन्हें कोई सरकारी सुविधाएं नहीं मिलेंगी।

सुनवाई में राज्य सरकार के अपर मुख्य स्थाई अधिवक्ता सुधांशु श्रीवास्तव ने कहा कि मेला क्षेत्र में मारपीट के मामले में याची पर पाबंदी की कार्रवाई की गई है। उनके खिलाफ कई आपराधिक मुकदमे हैं। तीन मामलों में सजा हो चुकी है और जूना अखाड़ा ने इन्हें बाहर कर दिया है। ऐसे में याची को शाही स्नान की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। वहीं, गोल्डन बाबा के वकील ने कहा कि उन्हेंस्नान करने नहीं दिया जा रहा है। इस पर कोर्ट ने कहा कि कोई किसी को भी स्नान करने से नहीं रोक सकता। वह आम आदमी की तरह स्नान कर सकते हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
गोल्डन बाबा।