पिछले महीने दिल्ली के आर्कबिशप अनिल काउटो ने भारत में धर्मनिरपेक्षता को खतरे में बताया था, इसके बाद उनके बयान को लेकर देशभर में विवाद पैदा हो गया था। 15

पिछले महीने दिल्ली के आर्कबिशप अनिल काउटो ने भारत में धर्मनिरपेक्षता को खतरे में बताया था, इसके बाद उनके बयान को लेकर देशभर में विवाद पैदा हो गया था। 15 दिन बाद अब गोवा और दमन के आर्कबिशप फादर फिलिप नेरी फेराओ ने भी कुछ ऐसा ही बयान दिया है। गोवा और दमन के ईसाइयों को लिखे अपने पत्र में फेराओ ने कहा है कि संविधान खतरे में है और हममें से ज्यादातर असुरक्षा में जी रहे हैं। पत्र में उन्होंने लोगों से संविधान को जानने और धर्मनिरपेक्षता, बोलने की आजादी और धर्म की आजादी जैसे मूल्यों को बचाने की अपील की है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें