गुजरात हाईकोर्ट ने 2002 में हुए नरोदा पाटिया दंगा मामले में पूर्व मंत्री माया कोडनानी को बरी कर दिया। एसआईटी की स्पेशल कोर्ट ने उन्हें 28 साल की सजा सुनाई

गुजरात हाईकोर्ट ने 2002 में हुए नरोदा पाटिया दंगा मामले में पूर्व मंत्री माया कोडनानी को बरी कर दिया। एसआईटी की स्पेशल कोर्ट ने उन्हें 28 साल की सजा सुनाई थी। कोर्ट ने 16 अन्य आरोपियों को भी बरी किया है। जबकि बाबू बजरंगी समेत 12 दोषियों की सजा बरकरार रखी है। 2 की सजा पर अभी फैसला नहीं किया गया है। इन सभी ने स्पेशल कोर्ट की ओर से सुनाई गई सजा को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी। गोधरा कांड के बाद भड़का यह सबसे बड़ा दंगा था। इसमें 97 लोगों की मौत हुई थी।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें