आम चुनाव भले ही अभी दूर हों, पर एनडीए में गठबंधन को लेकर सहयोगी दलों में तैयारी शुरू हो गई है। बिहार में नीतीश कुमार की जदयू ने जिस तरह भाजपा से बड़े भाई की

आम चुनाव भले ही अभी दूर हों, पर एनडीए में गठबंधन को लेकर सहयोगी दलों में तैयारी शुरू हो गई है। बिहार में नीतीश कुमार की जदयू ने जिस तरह भाजपा से बड़े भाई की भूमिका और गठबंधन का पुराने फॉर्मूले पर साथ रहने की शर्त रखी। उसी तरह अब महाराष्ट्र में शिवसेना, भाजपा के साथ चुनाव में उतरना चाहती है। तीन दिन पहले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात के दौरान शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने गठबंधन जारी रखने के लिए अपनी शर्त बता दी है। सूत्रों के मुताबिक, भाजपा से शिवसेना ने महाराष्ट्र विधानसभा की 288 सीटों में से 152 सीटें मांगी हैं। वह 136 सीटें ही भाजपा के लिए छोड़ना चाहती है, ताकि वह ज्यादा से ज्यादा सीटों पर जीत सके।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें