नेशनल डेस्क/ नई दिल्ली:दिल्ली के वजीराबाद में यमुना नदी पर बने सिग्नेचर ब्रिज के उद्घाटन कार्यक्रम में सांसद मनोज तिवारी के बिना आमंत्रण पहुंचने पर

नेशनल डेस्क/ नई दिल्ली:दिल्ली के वजीराबाद में यमुना नदी पर बने सिग्नेचर ब्रिज के उद्घाटन कार्यक्रम में सांसद मनोज तिवारी के बिना आमंत्रण पहुंचने पर विवाद हो गया। इस दौरान उनके और आप कार्यकर्ताओं के बीच हाथापाई भी हुई। आरोप है कि मनोज तिवारी ने यहां पुलिसकर्मी से मारपीट करने की भी कोशिश की।

क्या बोले मनोज तिवारी

दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी का कहना है कि मेरे लोकसभा क्षेत्र में बन रहे इस ब्रिज का काम मैंने दोबारा शुरू कराया, जो सालों से अटका पड़ा था। अब मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ब्रिज का उद्घाटन कार्यक्रम कर रहे हैं। मुझे भी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बुलाया गया था। मैं यहां से सांसद हूं। इसमें क्या परेशानी है। क्या मैं अपराधी हूं। मेरे चारों ओर पुलिस क्यों तैनात की गई। मैं यहां केजरीवाल का स्वागत करने के लिए आया था। लेकिन पुलिस ने मेरे साथ गलत व्यवहार किया।

खुद को वीआईपी मानते हैं मनोज तिवारी: आप

आप नेता दिलीप पांडेय का कहना है कि हजारों लोग यहां बिना आमंत्रण के जश्न मनाने आए थे। लेकिन मनोज तिवारी खुद को वीआईपी मानते हैं। उन्होंने यहां उपद्रव किया। भाजपा कार्यकर्ताओं ने कई आप कार्यकर्ताओं और स्थानीय लोगों के साथ मारपीट की। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।




Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
BJP Delhi Chief Manoj Tiwari quarrel with Police