चीन जिन देशों से होकर ये रूट बना रहा है, वहां की सुरक्षा का जिम्मा भी खुद ले रहा है। चीन अपनी सेना की ताकत और पैसे से कमजाेर देशों पर प्रेशर बना रहा है।

चीन जिन देशों से होकर ये रूट बना रहा है, वहां की सुरक्षा का जिम्मा भी खुद ले रहा है। चीन अपनी सेना की ताकत और पैसे से कमजाेर देशों पर प्रेशर बना रहा है। लेकिन आपको बता दें कि जो काम चीन आज 'वन बेल्ट वन रोड' के बहाने कर रहा है, वह काम बिना सेना और जंग के भारत दो हजार साल पहले ही कर चुका है। भारत ने करीब दो हजार साल पहले सिर्फ अपनी संस्कृति की दम पर ऐसा ही एक 'ग्रेटर इंडिया' रूट भारत से साउथ-ईस्ट एशिया तक बनाया था।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें