सामूहिक दुष्कर्म के बाद 8 साल की बच्ची की हत्या के आठ आरोपियों के खिलाफ सोमवार से मुकदमा शुरू हो गया है। इससे पहले, पीड़िता के पिता ने सुप्रीम कोर्ट में

सामूहिक दुष्कर्म के बाद 8 साल की बच्ची की हत्या के आठ आरोपियों के खिलाफ सोमवार से मुकदमा शुरू हो गया है। इससे पहले, पीड़िता के पिता ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर केस की सुनवाई जम्मू-कश्मीर के बाहर कराने की अपील की। सभी आरोपियों को सुबह कोर्ट में भी पेश किया गया। इनमें से एक आरोपी ने कहा कि नॉर्को टेस्ट में सबकुछ साफ हो जाएगा। वहीं, बच्ची के परिजनों की तरफ से लड़ रही वकील दीपिका एस राजावत ने धमकियां मिलने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, “मुझे नहीं पता कि मैं कब तक जिंदा रहूंगी। मेरे साथ दुष्कर्म हो सकता है, मेरी हत्या भी हो सकती है। मुझे कल धमकी मिली थी कि तुम्हें माफ नहीं करेंगे।’ उन्होंने कहा कि वह सोमवार को सुप्रीम कोर्ट को बताएंगी कि उनकी जान खतरे में है।