न्यूज डेस्क। कई लोग जज और मजिस्ट्रेट के सही अंतर को नहीं जानते। जज (न्यायाधीश) और मजिस्ट्रेट (दंडाधिकारी) दोनों में अंतर होता है। आज हम बता रहे हैं इनमें

न्यूज डेस्क। कई लोग जज और मजिस्ट्रेट के सही अंतर को नहीं जानते। जज (न्यायाधीश) और मजिस्ट्रेट (दंडाधिकारी) दोनों में अंतर होता है। आज हम बता रहे हैं इनमें क्या अंतर होता है। इससे कॉम्पीटिटिव एग्जाम्स की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स को हेल्प मिलेगी साथ ही ऐसे लोग जो इस बारे में जानते हैं, वे अपनी जिज्ञासा शांत कर पाएंगे। पहले समझिए कोर्ट में आने वाले मामलों को।

दो तरह के मामले होते हैं...
- दो तरह के मामले होते हैं। एक होते हैं सिविल यानी व्यवहार मामले। इन्हें उर्दू में दीवानी मामले भी कहा जाता है।
- दूसरे होते हैं क्रिमिनल केस। यानी दाण्डिक मामले। इन्हें उर्दू में फौजदारी मामले भी कहा जाता है।

कौन से केस किसमे आते हैं...
- ऐसे मामले जो अधिकार, अनुतोष या क्षतिपूर्ति से जुड़े होते हैं, वो सिविल मामले कहलाते हैं। इनका जिक्र सीपीसी 1908 के सेक्शन 9 में किया गया है।
- वहीं ऐसे मामले जिनमें अपराध के लिए प्रावधान है और जिनमें दंड की मांग की जाती है। वह दाण्डिक मामले कहलाते हैं।

तो जज और मजिस्ट्रेट में क्या अंतर है...
- मान लीजिए आपके घर पर किसी ने कब्जा कर लिया तो आप उसके खिलाफ सिविल केस लगाएंगे। घर खाली करवाने की मांग करेंगे। और कम्पनसेशन के लिए दावा करेंगे। ये मामले देखेंगे सिविल जज। अधिकार या अनुतोष की मांग की है तो इसकी सुनवाई जो कोई भी करेगा, उसे सिविल जज कहा जाएगा।

- वहीं जब आप वहीं जब आप कब्जा करने के लिए दंड देने की मांग करेंगे तो इसे क्रिमिनल कोर्ट में ले जाएंगे और इसकी सुनवाई जो करेगा उसे दंडाधिकारी कहा जाएगा।

कौन कहां बैठता है...
- सिविल जज लोअर कोर्ट (निचली अदालत) में बैठते हैं। यहीं ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट फर्स्ट क्लास या सेकंड क्लास भी बैठते हैं।
- वहीं जिला स्तर के न्यायालय में सिविल मामला जाता है तो वो डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में जाता है।
- क्रिमिनल मामला सेशन कोर्ट में जाता है।
- जिला न्यायाधीश सिविल मामलों को सुनते हैं। सत्र न्यायाधीश क्रिमिनल मामलों को सुनते हैं।- ऊपरी कोर्ट में दोनों ही जज होते हैं।
- वहीं हाईकोर्ट, सुप्रीम कोर्ट में इन्हें न्यायमूर्ति कहा जाता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Difference Between Magistrate and Judge