नासा ने सूरज को छूने के अपने ऐतिहासिक मिशन के तहत रविवार को पार्कर यान लॉन्च किया। शनिवार को हीलियम अलार्म बजने की वजह से लॉन्चिंग टाली गई थी। इस यान को

नासा ने सूरज को छूने के अपने ऐतिहासिक मिशन के तहत रविवार को पार्कर यान लॉन्च किया। शनिवार को हीलियम अलार्म बजने की वजह से लॉन्चिंग टाली गई थी। इस यान को डेल्टा-4 रॉकेट से केप कैनवरल स्टेशन से भेजा गया है। यह 85 दिन बाद 5 नवंबर को यह सूर्य की कक्षा में पहुंचेगा। अगले 7 साल तक ये सूर्य के कोरोना के 24 चक्कर लगाएगा।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें