लॉर्ड्स में गुरुवार से भारत-इंग्लैंड के बीच दूसरा टेस्ट खेला जाएगा। इंग्लैंड पहला मैच जीतकर पांच टेस्ट की सीरीज में 1-0 से आगे है। लॉर्ड्स में आंकड़ों में

लॉर्ड्स में गुरुवार से भारत-इंग्लैंड के बीच दूसरा टेस्ट खेला जाएगा। इंग्लैंड पहला मैच जीतकर पांच टेस्ट की सीरीज में 1-0 से आगे है। लॉर्ड्स में आंकड़ों में मेजबान टीम का पलड़ा भारी है। यहां इंग्लैंड ने भारत के खिलाफ 17 टेस्ट खेले। इनमें 11 जीते, दो हारे और चार ड्रॉ हुए। लॉर्ड्स में टॉस जीतने वाली टीम का सक्सेस रेट 55% है, लेकिन भारत यहां टॉस जीतकर टेस्ट कभी नहीं जीत पाया। 2014 में भारत ने महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में यहां इंग्लैंड को हरा दिया था। चार साल पहले की टीम में मुरली विजय, अंजिक्य रहाणे, चेतेश्वर पुजारा, शिखर धवन, रवींद्र जडेजा, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और विराट कोहली थे। ये सभी मौजूदा टीम में भी हैं। इनके पास इंग्लिश परिस्थितियों का अच्छा अनुभव है। 2014 में लॉर्ड्स टेस्ट में मुरली ने 95, रहाणे ने 103 और जडेजा ने निचले क्रम में उतरकर 68 रन की पारी खेली थी।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें