गैर-कानूनी रूप से अमेरिका में रहने वाले शरणार्थियों को कैलिफोर्निया की कोर्ट के आदेश के बाद अब उनके बच्चों से मिलाया जा रहा है। इनमें से कई बच्चे अपने माता-पिता को पहचान ही नहीं पा रहे। वे अब तक शिविर में उनकी देखभाल कर रहीं समाजसेविकाओं के पास जाने की जिद कर रहे हैं। चार महीने पहले ट्रम्प प्रशासन ने अवैध तरीके से अमेरिका में प्रवेश करने के आरोप में देश की दक्षिण पश्चिम-सीमा पर 2000 बच्चों को उनके माता-पिता से अलग कर दिया था।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें