यहां पर अदालत में एक आरोपी फ्रेंकलिन विलियम्स को हथियारबंद डकैती का दोषी करार दिया गया। इसके बावजूद फ्रेंकलिन जज जॉन रूसो से बहस करता रहा। आधे घंटे की बहस के दौरान रूसो ने फ्रेंकलिन को 12 बार चेतावनी दी। इसके बाद भी वह नहीं माना तो जज ने आदेश दिया कि उसके मुंह पर टेप चिपका दिया जाए। फ्रेंकलिन को 24 साल जेल की सजा हुई है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें