चीन ने अपने पहले हाइपरसोनिक एयरक्राफ्ट का सोमवार को सफल परीक्षण किया। उसका दावा है कि यह विमान परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है। साथ ही वर्तमान पीढ़ी के सभी एंटी मिसाइल सिस्टम को ध्वस्त कर सकता है। इसकी मिसाइल दागने की रेंज 5500 किलोमीटर है। यानी इस विमान से दागी जाने वाली मिसाइलों की जद में मुंबई-चेन्नई, रूस की राजधानी मॉस्को, यूरोप के कई देशों समेत आधी दुनिया आ सकती है। अमेरिका और रूस भी इस तरह के विमान का परीक्षण कर चुके हैं। हालांकि, उन्हें इसमें कामयाबी नहीं मिली है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें