आज के दिन यानी 15 मई 1957 को ब्रिटेन ने अपने पहले हाइड्रोजन बम का टेस्ट किया था। अमेरिका 1952 में पहले ही दुनिया के सबसे खतरनाक बम का टेस्ट कर चुका था, जिसके बाद ब्रिटेन भी इस बम को बनाकर टेस्ट करने की होड़ में शामिल हो गया था। हाइड्रोजन बम को पाने की रेस का कारण था, इसकी विनाशकारी ताकत। एक ऐसी ताकत जो मानव जाति का ही सर्वनाश कर दे। ऐसे में इस हथियार को पाना अपने आप में किसी जीत से कम नहीं था।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें