अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और नॉर्थ कोरिया के शासक किम जोंग की सिंगापुर में ऐतिहासिक मुलाकात होने वाली है। ऐतिहासिक इसलिए है क्योंकि नॉर्थ कोरिया बनने के बाद पहली बार अमेरिका के साथ उनके देश के प्रमुख मुलाकात कर रहे हैं। इस मीटिंग पर सबसे ज्यादा चीन की नजर है, क्योंकि चीन नॉर्थ कोरिया का सपोर्ट करता रहा है। ऐसे में अगर दोनों देश आपसी शर्तों पर राजी हो जाते हैं तो नॉर्थ कोरिया अमेरिका के करीब आ जाएगा। लेकिन चीन से उसकी दूरी बढ़ जाएगी। लेकिन मीटिंग के मायने इतने भर नहीं हैं।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें